New plugin from Bing for submitting URL quickly

New plugin from Bing for submitting URL quickly

सर्च इंजिन बिंग ने एक नया वर्डप्रेस प्लगइन पब्लिश किया हैं जो आपके ब्लॉग पोस्ट को आप बिंग में सबमिट कर सकते हैं । ये प्लगिन आपके यूआरएल को बड़ी आसानी से सबमिट करके उसे रेंक करा देता हैं । अब इसके लिएबिंग वर्डप्रेस के लिए एक नया प्लगइन शुरू कर रहा है जिसे सर्च इंजिन में तुरंत सबमिट करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। अब हर कोई जानता है कि एससीओ कितना महत्वपूर्ण है लेकिन मेथड आज तक कई सारी बताई जाती है लेकिन सच शायद कोई नही जानता की ये सब कैसे ऑपरेट हो सकता हैं । इसी के लिये बिंग एक नया प्लगिन ला रहा है जो इस पूरी प्रक्रिया स्वचालित रूप से करने की क्षमता रखता है । बस इसके लिये आपको अपनी वेबसाइट पर ये प्लगइन स्थापित करना होगा।

इस प्लगिन को आपको एक बार बिंग वेबमास्टर पोर्टल से प्राप्त एपीआई कुंजी के साथ इंस्टॉल करना होगा और कॉन्फ़िगर करना होगा । उसके बाद, प्लगइन नए पृष्ठों के साथ-साथ मौजूदा पृष्ठों के अपडेट का भी पता लगाता है।
इसे किस तरह करना है चलिये जान लेते हैं – बिंग यूआरएल सबमिशन वर्डप्रेस प्लगइन को इंस्टॉल कीजिये । आगे आपको दो स्टेप्स फॉलो करने होंगे :

New plugin from Bing for submitting URL quickly
New plugin from Bing for submitting URL quickly

( 01 ) वर्डप्रेस डैशबोर्ड के प्लगइन इंस्टॉल पेज से “बिंग यूआरएल सबमिशन” के लिए खोजें उसे डाउनलोड करें।
( 02 ) अब उसे सक्रिय करने के लिए अपनी बिंग वेबमास्टर टूल एपीआई की को सबमिट करके उसे एक्टिवेट कर दीजिये ।

अब आपको बिंग वेबमास्टर टूल पोर्टल के भीतर सेटिंग> एपीआई एक्सेस> एपीआई कुंजी पर नेविगेट करके अपनी एपीआई कुंजी का उपयोग कर सकते हैं।

इसके बाद नए और अपडेट किए गए पेजों के यूआरएल बिंग वेबमास्टर टूल एपीआई को सबमिट करते जाइये । ये सब प्रोसेस से जैसे ही वे यूआरएल प्रकाशित होते हैं नए पेज इंडेक्स होते हैं, और मौजूदा पृष्ठ अपडेटेड रहते हैं। बिंग यूआरएल सबमिशन प्लगइन वेब पर बिंग के यूआरएल सबमिशन टूल की तरह ही क्षमताएं प्रदान करता है।

इस प्लगइन से आप प्रति दिन 10,000 URL तक सबमिट कर सकते हैं, और इससे भी अधिक यूआरएल आप सबमिट करना चाहते है तो आप बिंग वेबमास्टर टूल टीम से विशेष स्पोर्ट के लिए पूछताछ कर सकते किया है।

ये प्लगिन सिर्फ इतना ही नही करता ! ये प्लगइन इससे अतिरिक्त सुविधाओं के साथ लैस है:
जैसे की

  1. स्वचालित सबमिशन सुविधा को चालू और बंद करें।
  2. मैन्युअल रूप से बिंग इंडेक्स का URL सबमिट करें।
  3. प्लगइन से हाल ही के URL सबमिशन की सूची देखें।
  4. किसी भी विफल प्रस्तुतियाँ को हाल ही में प्रस्तुतियाँ सूची से हटाएं।

आप विश्लेषण के लिए हालिया URL प्रस्तुतियाँ डाउनलोड कर सकते हैं लेकिन एक बात का ध्यान रखे कि हाल में तो ये प्लगिन केवल वर्डप्रेस के लिए उपलब्ध हैं। शायद आने वाले समय में इसे प्रणालियों में लाया जाएगा। और एक बात जान ले कि हाल में तो बिंग प्लगइन ओपन सोर्स का कोड बना रहा है, जो अन्य सीएमएस या डेवलपर्स अपनी साइटों के लिए इस प्लगिन का लाभ उठाने के लिए संभव बनाता है। बिंग की कहि बात देखें तो बिंग कहता है , “हम वर्डप्रेस से परे मदद करने के लिए यहां हैं: हमने इस प्लगइन को लॉन्च दिया है ताकि हमारे अपने सामग्री प्रबंधन प्रणाली और अन्य सामग्री प्रबंधन प्रणाली वाले वेबमास्टर्स के लिए हमारे विचारों का पुन: उपयोग और हमारे एपीआई के साथ एकीकरण को आसान बनाने के लिए यह आसान हो सके। आप GitHub रिपॉजिटरी में कोड ब्राउज़ कर सकते हैं। ” सच में एससीओ के लिए बिंग की ओर से ये शायद एक भेंट हैं जो वर्डप्रैस यूजर्स के लिए बहुत ही हेल्पफुल साबित होंगी । इसका इस्तेमाल करके इसका रिव्यू देने का प्रयास भी हम करेंगे । तब तक आप भी अगर वर्डप्रैस के यूजर है तो एक बार ये प्लगिन अवश्य ट्राय करें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap
%d bloggers like this: